Our Mission

…is to make Bihar a Secure, Environmentally Safe, Healthy and Educated state – a place where poverty will be the thing of the past and the word Bihar will only be spoken as a metaphor for well-being.

समाचारपत्रों से…

सुशील कुमार मोदी की कलम से…

मुख्यमंत्री बतायें कि जो जलमीनारें बन चुकी हैं, उनका क्या होगा?

पटना 21.07.2016 जब मुख्यमंत्री की ही स्वीकारोक्ति है कि तमाम प्रयासों के बावजूद अभी राज्य के मात्र 5 हजार बसावटों में ही पाइप से पानी पहुंचाया जा सका है और अगर जलापूर्ति की सारी योजनाएं पूरी कर ली जाए तो भी 22 प्रतिशत से ज्यादा घरों में नल से पानी नहीं पहुंच पायेगा। ऐसे में मुख्यमंत्री बतायें कि उनकी सरकार अगले चार साल में सूबे के एक लाख से ज्यादा बसावटों में पाइप से जलापूर्ति कैसे कर पायेगी? नीतीश कुमार की सरकार पिछले चार साल में तय लक्ष्य का 80 हजार चापाकल नहीं लगा सकी। 2015-16 में अनुसंशित 55,228 चापाकलों में से मात्र 2,572 ही लगा पाई। दूसरी ओर दावा किया कि ग्रामीण जलापूर्ति के नाम पर शुरू की गई पाइप जलापूर्ति योजना, मिनी पाइप जलापूर्ति योजना तथा सौर चालित पम्प आदि योजनाओं में से 90 प्रतिशत या तो आधी-अधूरी हैं या जिन्हें पूरी की गईं उनमें से भी अधिकांश आज बंद पड़ी हैं। मुख्यमंत्री शहरी और ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना में विधायकों की भूमिका को पूरी तरह से खत्म करने की निन्दा करते हुए कहा कि मुख्यमंत्री चापाकल योजना में विधायकों की अनुसंशा पर ही चापाकल लगाये जाते थे। 11 साल मुख्यमंत्री रहने के बाद अब नीतीश कुमार को लग रहा है कि गांवों में पाइप से जलापूर्ति के लिए जलमीनारों की कोई उपयोगिता नहीं है जब कि जलापूर्ति योजना की 40 प्रतिशत राशि जलमीनारों के निर्माण पर ही खर्च हुआ है। मुख्यमंत्री बतायें कि जो जलमीनारें बन चुकी हैं, उनका क्या... read more

नीतीश सरकार की नरमी से पटना में लगे पाकिस्तान समर्थक नारे

पटना 16.07.2016 बिहार की राजधानी पटना की सड़क पर पाकिस्तान समर्थक नारेबाजी और जाकिर नाइक के महिमामंडन ने फिर साबित किया कि नीतीश सरकार न केवल आतंकवादियों के प्रति नरमी बरत रही है, बल्कि उनका दुस्साहस बढ़ा कर फिर से राज्य को आतंकी घटनाओं का आसान निशाना बनाने पर तुली है। पटना के जिस जुलूस में कट्टरपंथी जाकिर नाइक और आतंकवाद की फैक्ट्री पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगे, वह पुलिस की मौजूदगी में निकला था। पुलिस देशविरोधी नारेबाजी से तब तक इनकार करती रही, जब तक पाकिस्तान जिंदाबाद के नारे लगाते लोगों का 14 सेकंड का मीडिया वीडियो वायरल नहीं हो गया। नीतीश कुमार बतायें कि भड़काऊ भाषणों के कारण जिस जाकिर नाइक को बांग्लादेश, ब्रिटेन,अमेरिका और कनाडा ने प्रतिबंधित कर दिया है, उसके समर्थन में पटना में जुलूस कैसे निकला? बिहार के लोग भूले नहीं हैं कि तीन साल पहले कैसे नीतीश कुमार के मुख्यमंत्री रहते दरभंगा, समस्तीपुर और मुजफ्फरपुर आतंकी मोड्यूल के ठिकाने बन गए थे। नेपाल से आतंकी यासीन भटकल की गिरफ्तारी के बाद बिहार पुलिस ने बिना पूछताछ किये ही उसे राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) के हवाले कर दिया था। आतंकी भटकल से पूछताछ के... read more
बिहार विधानसभा चुनाव 2015 में सुशील कुमार मोदी के नेतृत्व में अपनी सहभागिता के लिए हमसे जुड़िये

यहाँ क्लिक करें!

whatsapp

 

फेसबुक

हमारे पथ-प्रदर्शक

icons

सर्वे