पटना 21.04.2017

रेलवे के रांची व पुरी के दो होटल के बदले तत्कालीन रेलमंत्री लालू प्रसाद के निकटतम प्रेमचन्द गुप्ता की कम्पनी डिलाइट मार्केटिंग को कारोबारी हर्ष कोचर द्वारा लिखी गई पटना की 200 करोड़ की दो एकड़ जमीन जिस पर लालू परिवार का बिहार का सबसे बड़ा माॅल बन रहा है, के तमाम खुलासे के बावजूद लालू प्रसाद चुप्पी क्यों साधे हुए हैं? आज तक लालू प्रसाद यह क्यों नहीं बता पा रहे हैं कि आखिर प्रेमचन्द गुप्ता ने 200 करोड़ की जमीन के साथ अपनी कम्पनी लालू परिवार को क्यों सौंप दिया? लालू प्रसाद बतायें-

* रेल मंत्री बनने के चार महीने के भीतर ही रेलवे बोर्ड से रांची व पुरी के दो होटलों को लीज पर देने का फैसला क्यों कराया गया?

* बोर्ड के निर्णय के चार महीने के अंदर ही हर्ष कोचर ने प्रेमचंद गुप्ता की कम्पनी डिलाइट मार्केटिंग को 2 एकड़ जमीन पटना में रजिस्ट्री क्यों कर दिया?

* आखिर प्रेमचन्द गुप्ता की पत्नी सरला गुप्ता व पुत्र गौरव गुप्ता ने अपने सारे शेयर और डायरेक्टरशीप को छोड़ कर अपनी कम्पनी जमीन सहित लालू परिवार को क्यों सौंप दिया?

* आखिर नोटबंदी के ठीक चार दिन बाद ही 12 नवम्बर, .2016 को डिलाइट मार्केटिंग कम्पनी का नाम बदल कर लारा (ला-लालू, रा-राबड़ी) प्रोजेक्टस प्रा. लि. क्यों कर दिया गया? 

* क्या आज उसी जमीन पर लालू परिवार का बिहार का सबसे बड़ा माॅल (करीब 5 लाख स्क्वायर फिट) का निर्माण राजद विधायक सैयद अब्दुल दोजाना की कम्पनी मेरिडियन कंस्ट्रक्शन नहीं करा रही है?